Hindi Shayari Dil Se

Hindi Shayari Pictures, Love Shayari, Romantic Shayari, Pyar Shayari, Mohabbat Shayari, Dosti Shayari, Sad Shayari, Dardbhari Shayari, Bewafai, Tanhai, Judai, Yaadein Shayari, Suvichar Shayari

loading...

Sad Shayari in Hindi – Part-2 (Toote Dil Ki Shayari, Broken Heart Shayari, Tanhai, Bewafai, Judai)

Advertisements
Shikayat Shayari, Dard Bhari Shayari, Sad Shayari, 2 Lines Shayari, 4 Lines Shayari
Sad Shayari in Hindi – Part-2
(Toote Dil Ki Shayari, Broken Heart Shayari, Tanhai, Bewafai, Judai)
दम तोड़ जाती है हर शिकायत लबों पे आकर,
जब मासूमियत से वो कहती है मैंने क्या किया है
?
=-=-=-=-=
सलीक़ा हो अगर भीगी हुई आँखों को पढने का,
तो फिर बहते हुए आंसू भी अक्सर बात करते हैं
=-=-=-=-=
डरता हूँ कहने से की मोहब्बत है तुम से ……!!
की मेरी जिंदगी बदल देगा तेरा इकरार भी और इनकार भी …!!
=-=-=-=-=
मै फिर से निकलूंगा तलाश -ए-जिन्दगी में ….
दुआ करना दोस्तों इस बार किसी से इश्क ना हो
…..
=-=-=-=-=
उसके सिवा किसी और को चाहना मेरे बस में नहीं,
ये दिल उसका है,
अपना होता तो बात और थी
=-=-=-=-=
ये भी एक तमाशा है इश्क ओ मोहब्बत में
दिल किसी का होता है और बस किसी का चलता है
=-=-=-=-=
रूह तक नीलाम हो जाती है इश्क के बाज़ार में,
इतना आसान नहीं होता किसी को अपना बना लेना
=-=-=-=-=
हमें कोई ग़म नहीं था, ग़म-ए-आशि़की से पहले,
न थी दुश्मनी किसी से, तेरी दोस्ती से पहले
=-=-=-=-=
किरण चाहू तो दुनिया के सरे अँधेरे घेर लेते है
|
कोई मेरे तरह जी ले तो जीना भूल जायेगा ||
=-=-=-=-=
साथ भी छोडा तो कब,जब सब बुरे दिन कट गए |
ज़िन्दगी तुने कहा आकर दिया धोखा मुझे ||
=-=-=-=-=

हमें इस चिस्त से उम्मीद क्या थी और क्या निकला
|
कहा जाना हुआ था तय कहा से रास्ता निकला ||
खुदा जिनको समझते थे वो शीशा थे न पत्थर थे
|
जिसे पत्थर समझते थे वही अपना खुदा निकला
||
=-=-=-=-=
अगर टूटे कीसी का दिल ,तो शब् भर आख रोती है |
ये दुनिया है गुलो की जी इसमें काटे पिरोती है
||
हम मिलते है अपने गाओ में दुश्मन से भी इठला कर |
तुम्हारा शहर देखा तो बड़ी तकलीफ होती है ||
=-=-=-=-=
मेरी आँखों में आसूं, तुझसे हम दम क्या कहूं क्या है.
ठहर जाये तो अंगारा है,बह जाये तो दरिया है.
=-=-=-=-=
कहाँ नहीं तेरी यादों के हाथ
कहाँ तक कोई दामन बचा के चले
=-=-=-=-=
पूछ कर मेरा पता बदनामिया मत मोल ले
ख़त किसी फूटपाथ पर रख दे,
मुझे मिल जायेगा
 =-=-=-=-=
अपने हालात का खुद पता नहीं मुझको,
मैंने औरों से सुना है के मैं परेशां हूँ आजकल…
=-=-=-=-=
आज कोई नया जख्म नहीं दिया उसने मुझे,
कोई पता करो वो ठीक तो है ना
=-=-=-=-=
ऐंसे नहीं न सही,
वैसे ही सही
बस, एक बार तुम हाँ तो कहो ?
=-=-=-=-=
जब वो मिले हमसे अरसे बाद तो उन्होने पूछा हाल
-चाल कैसा है,
तो मैने कहा तुम्हारी चली चाल से मेरा हाल बदल गया,
=-=-=-=-=
Maut Se Keh Do Ki Hum Se Naraazgi Khatam Kar le Ab…!
Wo Bahut Badal Gaye Hai Jinke Liye Hum Jiya Karte Hain…
=-=-=-=-=
Tu hosh me thi phir bhi hume pehchaan na paai
Ek hum hai ki pee kar bhi tera naam lete rehte hai…
=-=-=-=-=
Un parindo ko kaid karna meri fitrat me nahi…
jo mere dil k pinjre me reh kar bhi dusro ke sath udne ke
shauk rakhte hai…
=-=-=-=-=
Tum rakh na sakoge mera tohfa
sambhal kr…
Warna abhi dil de deta apne sine
se nikal kar..!!!
=-=-=-=-=
Hamare baad nahi aayga tumhe chahat ka maza…
Tum sab se kehty firogy mujhe chaho uski tarah…
=-=-=-=-=
Tum Aaj Har Saans K Sath Yaad Aa Raahe Ho,,
Ab Teri Yaad Ko Rok Dun…Ya Apni Saans Ko…??
=-=-=-=-=
Paas Rahne Se Bhi Kam Nahi Hota…!!
Faaasla Jo Dilo’n Mein Hota Hai…!!
=-=-=-=-=
Bohat Rokta Hoon Khud Ko Tumhein Yaad Karne Sy . . .
Lakein Kya Karon, Ye Nadan Dil Na-Farmaan Bohat Hai…
=-=-=-=-=
Har Raat Guzarti Hai Meri Taron Ke Darmiyaa’n.
Main Chaand To Nahi Mgar Tanha Zarur hoon…
=-=-=-=-=
Dhoond raha hon Lekin Nakaam hoo abhi Tak….,
Wo Lamha, jis mein tu yaad Na aayi ho….
=-=-=-=-=
Jinn Ke Paas Hoti Hain Umer Bhar Ki Yadain,
Woh Log Tanhai Mein Bhi Tanha Nahi Hotay..
=-=-=-=-=
Pachtaya bahot uss k darwaze per dastak de kar
dard ki inteha ho gai jab uss ne poocha kon ho tum..
=-=-=-=-=
Mohbbat Main Jhukna Koi Ajeeeb Baat Nahi,
Chamakta Suraj Bhi to Dhal Jata Ha Chaand k Liye.! …
=-=-=-=-=
Maujood thi Udaasi abhe Pichhli Raat Ki,,
Behla tha DiL Zara Sa K Phir Raat ho Gai.!
=-=-=-=-=
Hum bhi maujood thy taqdeer k darwaazey par…
Log daulat par girey, humney tujhe maang liya….
=-=-=-=-=
Un Ko Dekha To kisi chiz ki Gumshudgi Ka Ehsaas Huwa
Hath Seene Pe Jo Rakha To Dil Maujood Na Tha,…
=-=-=-=-=
Toot sa gaya hai meri chahato ka wajood…
Ab koi achchha b lage to ham izhaar nahi karte…
=-=-=-=-=
Shikway Shikayatou’n ki Nahi..Yeh Zarf Zarf Ki Baat He..
Tere Vehm-O-Guma’n Mei’n Bhi Hum Nahi,Aur Tu Lafz Lafz
Hamai’n Yaad Hy…….
=-=-=-=-=
Yun To Har Rang Ka Mousam Mujhse Waqif Hai Magar,
Raat-E-Tanhaiyan Mujhe Kuch Alag Hi Janti Hain…
=-=-=-=-=
Sach He, Insaan Ki Khwahisho Ki Koi Had Nhi……
Meri Un’ginat Khwahishe Dekho Wo,Wo Or Bas Wo……
=-=-=-=-=
Nam Hai Palkain Teri Ae Moj-e Hawa Raat Ke Saath
Kya Tuje Bi Koi Yad Aata Hai Barsat Ke Sath..
=-=-=-=-=
Is Baarish Ke Mausam Main Ajeeb Si Kashish Hai ….
Na Chahte Hue Bhi Koi Shiddat Se Yaad Aata Hai….…
=-=-=-=-=
Rim Jhim Rim Jhim Baras Rahi Hai …
Yaad Tumhaari Qatraa Qatraa…
=-=-=-=-=
Jo Mujh se Tooti Thi Wo chorriyan Sasti Thii…..
Bahut mehnga Tha woH Dil Jo Tu Ne Tod Dala…..
=-=-=-=-=
Nahi Milega Mujh Jaisa Tujhe Chahne Waala. . .!!
Jaa Tujhe Ijaazat Hai Saari Duniya Aazma Le. . .!!!
=-=-=-=-=
Anjaam Ki Parwa Hoti To Me Ishq
karna Chhod Deta”
”Ishq Me Zid Hoti He Or Zid ka Me Betaaj Badshah Hun….”
=-=-=-=-=
Ishq ka samandar bhi kya samandar hai,
jo doob gaya wo aashiq jo bach gaya wo deewana…
=-=-=-=-=
Karo phir se koi wada, kabhi na phir bichhadne ka ….
tumhein kya faraq padta hai chalo phir se mukkar jana …
=-=-=-=-=
Chal chup kar, uss ki gawahiyyan, saffaiyyan …
Tu mera DIL he ya US bewafa ka wakeel ….!!!
=-=-=-=-=
Meri khamoshi tumhen rulaigee…
Zara yeh waqat beat jany do….!!
=-=-=-=-=
Auron se to umeed ka rishta bhi nahi tha….
Tum itne badal jao gay socha bi nai tha…..
=-=-=-=-=
Darpok hai woh log, Jo pyaar nahi karte.
Saala barbad hone ke liye bhi jigar chahiye…
=-=-=-=-=
Phool yuhi nahi khilte,
beej ko dafan hona padta hai …
=-=-=-=-=
Chahat, Fikar, Taqdeer, Isqh-Mohabbat, Or Wafa…
‪Meri In Hi Adaton Ne Mera Tamasha Bana Diya…
=-=-=-=-=
Muhabbat ki haqeeqat mein ..
Khamooshii aakhri sach hai…
=-=-=-=-=
Har koi Deta Hai Zakham Gin Gin ke ‘Be-Wajha’….!
Mein Kis kis Zakham Ko Apna Naseeb Samjhoon…!
=-=-=-=-=
Sikha Di Bewafai Tumhe B Zalim
Zamane Ne..!!
Tum Jo Seekh Lete Ho, Hum Hi Pe Azmate Ho..
=-=-=-=-=
Taqdeer Ka Hi Khel Hai Sab….. ,
Par ,
Khwahishe’n Samjh’ti Hi Nahi……!!!
=-=-=-=-=
लम्हों की दौलत से दोनों महरूम रहे ,
मुझे चुराना न आया,
तुम्हें कमाना न आया
=-=-=-=-=
अब किसी और से मुहब्बत करलू तो शिकायत मत करना…।।
ये बुरी आदत भी मुझे तुमसे ही लगी है…..।।
=-=-=-=-=
टूट  कर  भी  कम्बख्त  धड़कता  रहता  है ,
मैने
इस  दुनिया  मैं  दिल   सा  कोई  वफादार नहीं  देखा।
……
=-=-=-=-=
अगर यूँ ही कमियाँ निकालते रहे आप….
तो एक दिन सिर्फ खूबियाँ रह जाएँगी मुझमें….
=-=-=-=-=
मेरी मंज़िल मेरी हद ।
बस तुमसे तुम तक ।।
ये फ़क्र है कि तुम मेरे हो ।
पर फ़िक्र है कि कब तक ।।
=-=-=-=-=
बहुत आसान है पहचान इसकी
अगर दुखता नहीं तो दिल नहीं है
=-=-=-=-=
अगर है दम तो चल डुबा दे मुजको,
समंदर नाकाम रहा, अब तेरी आँखो की बारी.
=-=-=-=-=
ना इतना चाह मुझे की तेरा तलब्दार बन जाऊ,
तेरी मोहब्बत दीवानगी का में हकदार बन जाऊ,
मेरे मुक़द्दर तक़दीर की तू परवाह ना किया कर,
ऐसा ना हो की में खुद तुझ में तेरी तस्वीर बन जाऊ…
=-=-=-=-=
क्या फर्क है दोस्ती और मोहोब्बत में,
रहते तो दोनों दिल में ही है…?
लेकिन फर्क तो है…..
बरसो बाद मिलने पर दोस्ती सीने से लगा लेती है,
और मोहोब्बत नज़र चुरा लेती है…!!
=-=-=-=-=
दिन तो कट जाता है शहर की रौनक में ,
कुछ लोग याद बहुत आते है दिन ढल जाने के बाद…
=-=-=-=-=
ये वक़्त बेवक़्त मेरे ख्यालों में आने की आदत छोड़ दो तुम,
कसूर तुम्हारा होता है और लोग मुझे आवारा समझते हैं..!!
=-=-=-=-=
सुनकर ज़माने की बातें, तू अपनी अदा मत बदल,
यकीं रख अपने खुदा पर, यूँ बार बार खुदा मत बदल……!!
=-=-=-=-=
तुमने कहा था हर शाम तेरे साथ गुजारेगे,
तुम बदल चुके हो या फिर तेरे शहर में
शाम ही नहीं होती?
=-=-=-=-=
तेरी मोहब्बत की तलब थी तो हाथ फैला दिए वरना,
हम तो अपनी ज़िन्दगी के लिए भी दुआ नहीं करते…
=-=-=-=-=
ये कफ़न,
ये कब्र,
ये जनाज़े,
सब रस्म ऐ दुनिया है दोस्त,
मर तो इन्सान तब ही जाता है,
जब याद करने वाला कोई ना हो.
=-=-=-=-=
हम अपने पर गुरुर नहीं करते,
याद करने के लिए किसी को मजबूर नहीं करते.
मगर जब एक बार किसी को दोस्त बना ले,
तो उससे अपने दिल से दूर नहीं करते.
=-=-=-=-=
फ़लक पर कबूतर दिखे जब कभी,
बहुत याद आयीं तेरी चिठ्ठियाँ..
=-=-=-=-=
फिर से मुझे मिट्टी में खेलने दे खुदा,
ये साफ़ सुथरी ज़िन्दगी, ज़िन्दगी नहीं लगती।
=-=-=-=-=
लोग कहते हैं पिये बैठा हूँ मैं,
खुद को मदहोश किये बैठा हूँ मैं,
जान बाकी है वो भी ले लीजिये,
दिल तो पहले ही दिये बैठा हूँ मैं
=-=-=-=-=
वो इस कमाल से खेले थे इश्क की बाजी …..!!
मैं अपनी फतह समझता रहा मात होने तक…!!!
=-=-=-=-=
जब इश्क और क्रांति का अंजाम एक ही है
तो राँझा बनने से अच्छा है भगतसिंह बन जाओ
=-=-=-=-=
अजीब था उनका अलविदा कहना !सुना कुछ नहीं और कहा भी कुछ नहीं!
बर्बाद हुवे उनकी मोहब्बत में, की लुटा कुछ नहीं और बचा भी कुछ नहीँ !
=-=-=-=-=
बेगाना हमने नही किया किसी को अपने से,
जिसका दिल भर गया वो छोड़ता चला गया….
=-=-=-=-=
बेखबर हो गए है कुछ दोस्त हमसे,
जो हमारी ज़रूरत को महसूस नहीं करते.
कभी बहुत बातें किया करते थे हमसे,
अब खेरियत तक नहीं पूछते…!!!
=-=-=-=-=
कभी ऐसी भी बेरुखी देखी है तुमने
“”एय दिल “”
लोग आप से तुम
,
तुम से जान ,
और जान से अनजान हो जाते हैं…
=-=-=-=-=
सुनो, आज खुशी मिली थी डिबिया में बंद कर के रख ली है
तुम मिलोगें,
तो मिल-बाँट के खायेगें, नहीं तो शायद मीठी न लगे
!!
=-=-=-=-=
बर्बाद कर के मुझे उसने पूछा,
करोगे फिर मुहब्बत मुझसे
?………
लहू लहू था दिल मगर होंठों ने कहा…”इंशा-अल्लाह”….!!
=-=-=-=-=
कुछ सही तो कुछ खराब कहते हैं,
लोग हमें बिगड़ा हुआ नवाब कहते हैं,
हम तो बदनाम हुए कुछ इस कदर,
की पानी भी पियें तो लोग शराब कहते हैं…!!!
=-=-=-=-=
पूछा जो हमने किसी और के होने लगे हो क्या
?
वो मुस्कुरा के बोले
… पहले तुम्हारे थे क्या
.?
=-=-=-=-=
हालात ने तोड़ दिया हमें कच्चे धागे की तरह…
वरना हमारे वादे भी कभी ज़ंजीर हुआ करते थे..
=-=-=-=-=
किसी ने ग़ालिब से कहा :
सुना है जो शराब पीते हैं उनकी दुआ कुबूल नहीं होती !!
ग़ालिब बोले
:
जिन्हें शराब मिल जाए उन्हें किसी दुआ की ज़रूरत नहीं होती ।।……….
=-=-=-=-=
फकीर हूँ सिर्फ तुम्हारे दिल का,
बाकी दुनिया का तो सिकन्दर ही हु….
=-=-=-=-=
हथेलिया भर भर के दर्द न दे मुझे,
दर्द के समंदर ले बैठा हूँ में….
=-=-=-=-=
कदम रुक से गए आज फूलो को बिकता देख …
वो अक्सर कहा करते थे की प्यार फूलो जैसा होता हें…
=-=-=-=-=
धोखा दिया था जब तूने मुझे.
जिंदगी से मैं नाराज था,
सोचा कि दिल से तुझे निकाल दूं. मगर कंबख्त दिल भी तेरे पास था…
=-=-=-=-=
तुम न रख सकोगे मेरा तोहफा संभालकर
वरना मै अभी दे दूँ, जिस्म से रूह निकालकर
=-=-=-=-=
Nahi Milti wafa ab un pyar ke rishto mein,
Dunya mein Logon k badal jane ki rasm Aam ho gai hai…
=-=-=-=-=
Zaroori To Nahi Mohabbat Lafzon Me Bayan Ho,
Kya Sach Mein Meri Aankhen Tmhain Kuch Nahi Kehti !!!!!
=-=-=-=-=
Mein toh tere ehsaas se hee mehak gaya…
agar ishq hota toh mere khuda naa jane kaya hota……
=-=-=-=-=
Woh mere dil par rakh kar seer soi thi bekhabar..,
Hum ne dhadkan hi rok li …ki kahin uski neend naa toot
jaaye..
=-=-=-=-=
Khairaat Mein Mili Khushi Humen Acchi Nahi Lagti
Rehte Hain Hum Apne Dukhon Mein Nawaabon Ki Tarah…
=-=-=-=-=
Zakham Dene ki Aadat Nhi Humko,
Hum to Aaj b Wo Ehsaas Rakhte hai,
Badle-Badle to Aap Hai Janab,
Hamare Alawa Sabko Yaad Rakhte Hai…
=-=-=-=-=
Hum To Samjhe The ke Zakham Hai Bhar Jayega..
Kya khabar Thi Ke Rog Dil ME Utar jayega..
=-=-=-=-=
Theek Likha Tha Mere Hath Ki Lakeeron Mei…
Tu Agar Pyar Karega To Bikhar Jayega..
=-=-=-=-=
Badi mushkil se bnaya tha apny ap ko kabil us k….
us ne ye keh kr bikhair diya…..
k tujh se muhabbat to ha pr tujhy pany ki chaht nai……..
=-=-=-=-=
Unka waada hai ki woo laut ayenge,
issi umeed par hum jiye
jayenge,
yeh intezaar bhi unhi ki tarah pyaara hai,
kar rahe the, kar rahe hai
or kiye jayenge.
=-=-=-=-=
Jeene ki arzoo me mare jaa rahe hai log….
Marne ki aarzoo me jee raha hu me..
=-=-=-=-=
Qatal Huwa Humara Iss Tarha
Qiston Main..!
Kabhi Khanjar Badal Gaye Kabhi
Qaatil Badal Gaye…!
=-=-=-=-=
Sukoon milta hai doh lafz kaagaz par utaar kar…
Keh bhi deta hu aur awaaz bhi nahi aati…
=-=-=-=-=
Teri yaadon ki baarish jab bhi
barasti hai mujh par…..
Main bheeg zaroor jaata hoon
sirf palkon ki hadd tak…..
=-=-=-=-=
Dil sulagta hai Tere sard ravaiyye se Qateel
Dekh is barf ne kya aag lga rakhi hai..
=-=-=-=-=
Khwab me b WO ab nahi Aaty
Nafratain in dino Arooj pe hain..
=-=-=-=-=
Hum Sache Jazbon Ki Badi Qadar Kia Krte Hain…
Ye alag bat h ki taqdeer lipat kr rone lagi,
warna baahein toh tujhe dekh kar feli thi…
=-=-=-=-=
Mai Tumse kaise kahun Yar-e-Meharban Mere…
K Tu Hi Ilaaj Hai meri har Udaasi ka…
=-=-=-=-=
Hadd se badh chuka hai aapka nazar andaaz karna
aisa salook na karo k hum bhulne pe mazbur ho jaye!!
=-=-=-=-=
Kitnay Majboor Hain Taqdeer Kay Haathon,
Na usy panay ki Auqat, Na usy khony ka hosla….!
=-=-=-=-=
Ho Sakti Hy Muhabbt Zindgi Meh Dubara B…
Bas Hosla Ho, Ek Dafa Phir “Barbaad” Hone Ka…!!!
=-=-=-=-=
Pehla Sa Wo JunooN,,
Wo Mohabbat Nahi Rahi,,
Kuch Kuch Sambhal Gaye Hain,
Unki Duaa Se Hum..!!
=-=-=-=-=
Mayoos Ho Gaye Hain hum Zindagi ke Safar Sy,
Maqsad Ki Mohabat , Matlab Ki
Dostiyaa , Dikhawy K Rishty…!
=-=-=-=-=
“MOHABBAT” k ilawa Kuch Nahi Tha teri Ankhon Me,
Yeh “NAFRAT” Ab Zamane Ki Kahan Se seekh Li Tum ne…!!!
=-=-=-=-=
Muhabbat Hay K Nafrat Hay Koi Itna Tou Samjhaye..
Kabhi Main Dil Say Ladta Hun, Kabhi Dil Mujh Say Ladta
Hay…!!
=-=-=-=-=
Tum Jante Ho Mery Dil Ki Awaaz….???
Khair Choro!! Jante Hote To Mere Hote…!!
=-=-=-=-=
Mohabbat Kisi Se Tab Hi Karna
Jab Mohabbat Ko Nibhana Seekh Lo…!!
Majburiyoon Ka Sahara Lekar Chhod Dena Wafadari Nahi Hoti…!!
=-=-=-=-=
Ajeeb Ristha Raha Kuch Is Tarha Apno Se Apna,
Na Nafrat Ki Waja Mili, Na Mohabbat Ka Sila…!!
=-=-=-=-=
Kabhi na kabhi wo mere bare me sochengi zaroor…
Ki haasil hone ki ummid bhi nahi hai phir bhi pyaar karta
hai mujse….
=-=-=-=-=
इतनी शिद्दत से वो शख्स मेरी रगो मै उतर गया है,
कि उसे भुलाने कि लिये मुझे मरना होगा,
=-=-=-=-=
मोहब्बत का अजीब दस्तूर देखा,
जो उसकी जीत हो तो हम हार जाये,
=-=-=-=-=
ऐंसे नहीं न सही,
वैसे ही सही
बस, एक बार तुम हाँ तो कहो ?
=-=-=-=-=
ए जिन्दगी खत्म कर अब ये यादो के सिलसिले,
मै थक सा गया हू दिल को तसल्लिया देते देते,
=-=-=-=-=
हमसे मत पूछिए जिंदगी के बारे में
अजनबी क्या जाने अजनबी के बारे में
=-=-=-=-=
तुम्हे मोहब्बत करना नहीं आता
मुझे मोहब्बत के सिवा कुछ नहीं आता
ज़िन्दगी जिने के दो ही तरीके है
एक तरीका तुम्हे नहीं आता, एक मुझे नहीं आता
=-=-=-=-=
किसी को भुलाने के लिए ना मर जाना तुम..
क्या जाने कौन तुम्हारी राह देख रहा होगा
!!
=-=-=-=-=
हम तो रो भी नहीं सकते उसकी याद में
उसने एक बार कहा था
मेरी जान निकल जाएगी
तेरे आंसू गिरने से पहले..
=-=-=-=-=
आँसू की कीमत जो समझ ली उन्होने..
उन्हे भूलकर भी मुस्कुराते रहे हम
..
=-=-=-=-=
चले जायेंगे तुझे तेरे हाल पर छोड़कर
कदर क्या होती है तुझे वक़्त सिख देगा
Search Terms : Hindi Sad Shayari, Tanhai Shayari, Judai Shayari, Bewafai Shayari, Toote Dil Ki Shayari, Broken Heart Shayari, Udaas Shayari, Dard Bhari Shayari, Sad Shayari In Hindi Font, Shayari In Text, Loneliness  Shayari, 2 Lines Shayari, Hindi Shayari Collection, Heart Touching Shayari
Advertisements

You May Like:

loading...

Related Posts

61 Comments

Add a Comment
  1. Awesome collection…..!!
    All r nice..!!

  2. Ahsu nekalna m to aap maher ho

    1. खुदा ने जब इशक बनाया होगा तो पहले खुद आजमाया होगा हमारी तो ओकात ही कया इशक ने तो खुदा को भी रुलाया होगा

  3. Awesome , jo b padta hy ask where it is frm..hat’s off for u.

  4. very nyc yrr

  5. Very nice collection.

    Kaun kehta hai k is sal barsat nhi hui.
    Aankho me to barish 12 mhine hai.

    Ja tujhe tere hal pe 6oda.
    Is se bdi sza kya.

  6. kamlesh thakur Alex

    Great Collection
    Thanks for it !

  7. Ek esa insan jisne apne sare rishte
    bhai bahan dost kho diye ho aur sirf uske sath uski mom ho
    plzz aesi shayary chahta hu me
    plss give me on my email ID 🙁 🙁 🙁

    1. Hi Jordan,

      Please Read The Below Shayari……Just For You……

      Toot Gaye Sab Rishte Naate, Bhai Behan Bhi Rooth Gaye,
      Kaisi Chali Vakt Ki Aandhi, Sab Apne Hi Chhod Gaye,
      Shukra Khuda Ka Hai Jo Meri Maa Ka Saya Mera Saath Hai,
      Sab Kuchh Hasil Kar Jaunga Main, Jab Uska Sar Pe Haath Hai

      1. Very touchy

      2. Mind blowing line

      3. very very nice

      4. Mind blowing line wahhhhhh

      5. Osssmmmm shayari

    2. Hey jordan…..

      Mai raheta to aaj bhi jannat ke sath hu….
      Bas kambakhat farishtay chhut gaye hai……
      Koi shaks hota to mana bhi lete…….
      Tab kya kare jab halat ruth gaye hai….!!!

    3. Bin Vajah Etna matt roothha kro hum se

      Warna

      Jis din hum roothhenge na…….
      Tumhare paas mannane ke liye na to hum honge
      Na koi vajah……new h…kesa likhta hu…m

    4. क्या लिखूं इस ज़िन्दगी के बारे मैं दोस्तो
      वो लोग ही बिछड़ गए जो जिंदगी हुआ करते थे ।

      1. किस मुँह से इल्ज़ाम लगाएं बारिश की बौछारों पर,
        हमने ख़ुद तस्वीर बनाई थी मिट्टी की दीवारों पर !!

    5. I luv u shivanipal

  8. Suraj ne bhi kabhi chand se mohobbat ki hogi chand ne use bewafai ki hogi tabhi to chand me daagh hai aur suraj me aag hai…

  9. Hanste rahoge toh duniya sath hain warna, Aansuoo ko to aankh me b jagah nahi milti.

    1. i like your msh

  10. जो दिल में है वोंही अच्छे है
    उन्हें भुलाकर कहीं और दिल लगाने की
    इच्छा खत्म हो चुकी है

  11. Ek Ladki Thi Deewani Si
    Ek Ladke Pe Woh Marti Thi
    Nazrein Jhukake, Sharmake
    Galiyon Se Guzara krti Thi
    Chori Chori Chupke Chupke
    Chithhiyaan Likha Karti Thi
    Kuchh Kehna Tha Shaayad Usko
    par, Jaane Kisse Darti Thi
    Jab Milti Thi Mujhse
    Mujhse Poochha Karti Thi
    Pyar Kaise Hota Hai
    Yeh Pyar, Kaisa Hota Hai
    pagli thi wo shayd
    ye bhi na janti thi
    bahot pyr krta tha usse
    itna bhi na smjhti thi
    wo hehti thi “kya ho tum?”
    maine kaha ek dil hu mai
    jiski dhadkan ho tum
    – S square

  12. Thhi Ye Akhari Koshish Tujhe Pane Ki,
    Ishq Ki Dariya Main Dubki Lagane Ki,
    Socha Tha Tujhe Paa Lunga Par,
    Aisi Kismat Hi Kaha Mujh Jese Deewane Ki.

    By Saif as S square

  13. Awesome collection…..!!
    All r nice..!!

  14. superb very nice

  15. E khuda jab bhi bana.
    Uska hi bana.

  16. खरीद लेता उस बेशकीमती शराब कि हर एक बूंद को….!!
    जो तेरा नाम भूला दे जुबां से फकत चन्द लम्हो के लिए….!!

  17. Hamare baad nahi aayga tumhe chahat kamaza…Tum sab se kehty firogy mujhe chaho uskitarah…

    1. Bhut drr lgta h mujhe un loge se..
      Jo baton mai mithas or dil mai nfrt rakhte ho£

  18. i miss you

  19. Har yadome yuski yadi raheti he meri aankho ko yuski talash raheti he kuch tum bhi dua karo yaro suna he dosto ki dua me faristo ki aawaz hoti he

  20. wo jalim humse kh rhe the ki main tumhe bhulna chahti hu,
    Humne bhi kh diya aree pehle hume yaad to krna seekh lo

  21. well ..I guess all are touched by those lines ….I also have mine ..”! ab kiya kahu apne baare mei dosto ”
    jab bhi mai apni daastaa aayine ko sunaata hu ..waha khada sharks bhi ro padta hai …..

  22. shivraj 9808720889

    सौदा कुछ इस कदर किया है तेरी यादों ने मेरे खवावों से,
    या तो दोनों आते हैं या फिर कोई नहीं आता ।

  23. shivraj 9808720889

    9808720889
    कभी ना कभी वो मेरे बारे में सोचेगी जरूर,
    कि हासिल होने की उम्मीद ना थी फिर भी ‪‎मोहब्बत‬ करता था…
    shivraj 💔

  24. Wahhh!! Heart touching msgs…i like…

  25. jo mohobat ka dava krte h vo khud nahi jante mohobat cheez kya h.
    aksr mohobat krne valo ko brbadi ne apni or kheech lia h .
    kambakht dil bhi kitna ziddi hota h ki har hi nahi manta.
    kis kdr tukde hote h pyr me vo nadan itna b nahi janta.
    Altrust Avi

  26. vijay Kumar Kirar

    बदला हुआ है आज मेरे आंसूओ का रंग
    कहीं दिल के जख्म का कोई टांका तो नहीं उधड गया!

  27. Hum dil ka dard sunane mai reh gye,Ruthe dilo ko manane mai reh gye,Manjil humari hamare karib se gujar gay,Aur hum dusro ko rasta dikhane mai reh gye…

  28. उमर की राह मे रस्ते बदल जाते हैं, वक्त की आंधी में इन्सान बदल जाते हैं, सोचते हैं तुम्हें इतना याद न करें, लेकिन आंखें बंद करते ही इरादे बदल जाते

  29. #अक्सर पूछते है ♡ लोग किसके लिए लिखते हो…….☆अक्सर कहता है दिल…. ♥काश कोई होता ‘;….☆

    1. toot jaigi ek din unki b zidd yaad na krne ki,
      jb uneh malum padega yaad krne wala ab sirf yaad bnkar rah gya,

    2. Super yaar

  30. Heart touching line
    Wahhhhhhh

  31. दम तोड़ जाती है हर शिकायत लबों पे आकर,
    जब मासूमियत से वो कहती है मैंने क्या किया है

  32. Vishal Gourav (VG)

    lakh samjhaya usko ki duniya vale sak krte hai
    magar uski aadat nhi gayi muskurakar gujarne ki

  33. Miss u…..

  34. Kabhi na kabhi wo mere bare me sochengi zrur…ki haasil hone ki ummid bhi nhi hai, phir bhi pyar karta hai mujhse…”!

  35. Missss u simran

  36. Ham se WO kya naraj hui
    Hmari muskana bhi ham se naraj ho gayi

  37. देना हो साथ तो जिंदगी भर का देना ऐ दोस्त
    लम्हों का साथ तो जनाजा उठाने वाले भी दिया करते है !!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
Hindi Shayari Dil Se © 2015